जीवन में संयम आवश्यक : आचार्य श्री महाश्रमण


हरिपुर । 16 फर.। (JTN) परमपूज्य आचार्य श्री महाश्रमणजी आज करीब 14.5 किमी का विहार कर हरिपुर पधारें । प्रात:कालीन प्रवचन करते हुए पूज्यप्रवर ने फ़रमाया कि- जीवन में संयम की आराधना बहुत काम्य है । जीव और अजीव तत्व को जानने वाला संयम को जान लेता है । 
उत्तरप्रदेश के लिए पूज्यप्रवर ने फरमाया कि- उत्तरप्रदेश का सौभाग्य है कि उसे भगवान राम, भगवान ऋषभ आदि महापुरुषों से जुड़े होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है । आज हम हरिपुर आए है । हम वीतराग प्रभु का स्मरण करें । कल्याण की दिशा में आगे बढ़ें । संवाद व फोटो: राजू हीरावत ।




Related

Pravachans 5072396870327373874

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item