मंत्र दीक्षा जीवन निर्माण की नींव- साध्वी कुंन्थु श्री जी


अभातेयुप के निर्दर्शन में और साध्वी कुन्थुश्री जी के सान्निध्य मे, ते.यु.प. हेदराबाद के तत्वावधान मे मंत्र दीक्षा का कार्यक्रम आयोजित किया गया। साध्वी कुंन्थु श्री जी ने विधिवत मंत्र दीक्षा प्रदान की। मंत्रो का उच्चारण  एवं महत्व को बताते हुऐ कहा कि नमस्कारमंत्र मंत्र नही महामंत्र है। इसे चवदह पूर्वो का सार बताया गया है। मंत्र मे अनन्त शक्ति होती है इसकी ध्वनि और तरंगे शरीर को प्रभावित करती है| चित को निर्मल बनाती है।   चैतन्य केन्द्र जाग्रत होते हे| आधुनिक युग मे भटकाव के अनेक रास्ते हे बच्चो को सुस्थिर करने के लिये मंत्र दीक्षा दी जाती है। बचपन मे द्रढ आस्था के साथ मंत्र स्मरण करने से सुसंस्कारों के बीज अकुंरित होते है। 
तेयुप अध्यक्ष प्रवीण बैंगाणी ने स्वागत स्वर में बालक बालिकाओ के प्रति मंगलभावना व्यक्त करता हुए कहा क़ि सुसंस्कारी बच्चे ही समाज व् राष्ट्र के कर्णधार होते हैं। कार्यक्रम का संचालन अनिल माण्डोत और राहुल गोलछा ने किया। आभार ज्ञापन ते.यु.प.के सहमन्त्री विरेन्द्र घोषल ने किया। JTN से मुकेश सुराना, प्रियदर्शिनी जैन

Related

Local 1132787032008882749

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item