विश्व शान्ति एवं अहिंसा संगोष्टी : हासन

तेरापंथ सभा हासन के तत्वाधान में हासन का प्रसिद्ध श्री धर्मस्थल मंजुनाथ आयुर्वेद (SDM ) मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल में शांतिदूत आचार्य महाश्रमणजी के सुशिष्य तपस्वी मुनिश्री ज्ञानेन्द्र कुमारजी का आगमन हुआ । जहा प्रिंसिपल प्रोफेसर छात्राओं ने स्वागत किया ।

"विशव शांति और अहिंसा " पर आयोजित संगोष्टी को संबोदित करते हुए मुनिश्री ने फ़रमाया की आज विश्व को अहिंसा की बहुत ही जरूरत है , जितनी जितनी अहिंसा बढेगी उतनी ही विश्व शांति हो सकती है । आज विश्व परमाणु के ढेर पर खड़ा है ,कब भयानक मंजर हो जाए कह नहीं सकते । किसीका शोषण करना भी हिंसा है । 
किसी भी हक़ के लिए विरोध करना भी हिंसा है । जहा अहंकार नफरत , भय , ईर्ष्या व नकारात्मक विचार है वह हिंसा है वह हिंसा निश्चित है । यहाँ उपस्थित छात्र -छात्राओं एवं डॉक्टर संकल्प करे कि वे क्रोध नहीं करेंगे , द्वेष नहीं करेंगे , प्रेम मैत्री करुणा दया को अपनाएंगे तभी ही हम सही रूप में अहिंसक बन कर विश्व शान्ति का सपना सच कर सकते है । 
मुनिश्री विमलेश कुमारजी ने कहा की किसी को मारना सरल है लेकिन बचाना कठिन है , किसी को गिराना सरल है लेकिन उठाना कठिन है । भगवन ने जो हमे शक्ति दी है हम उसका मानवता की भलाई में उपयोग करे , सिर्फ नाम के इंसान नहीं बने , इंसानियत का भी जीवन जिए । 

इस मौके पर मुख्य अतिथि डॉ शैलजा प्रसन्न राव ने विचार व्यक्त किये । कार्यक्रम की शुरुवात छात्राओं द्वारा मंगलाचरण से हुआ । कन्यामण्डल हासन ने गीतिका प्रस्तुति दी । मांगीलाल आसोरिया ने कार्यक्रम को सफल बनाने में अहम् भूमिका निभाई । सभा एवं महिला मंडल द्वारा अतिथियों को साहित्य द्वारा सन्मान किया गया । 
संचालन सभा के संगठन मंत्री महावीर भंसाली ने किया । हासन के तीनो समाज तेरापंथी , मूर्तिपूजक एवं स्तानकवासी एवं बड़ी संक्या में डॉक्टर , छात्र -छात्राओं , कर्मचारी उपस्थित रहे ।
फ़ोटो और रिपोर्ट : विमल कोठारी हासन 







Related

Local 140219226575596944

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item