*आचार्य तुलसी मानवता के मसीहा थे आचार्य तुलसी - साध्वी सोमलता*


करुणा के महासागर आचार्य श्री महाश्रमण जी की विदुषी शिष्या साध्वी श्री सोमलताजी के सानिध्य में युग प्रहरी आचार्य श्री तुलसी की 20वीं पुण्य तिथि पर दहिसर,बोरीवली,भाईन्दर,कांदिवली,सांताक्रुज,कुर्ला आदि क्षेत्रों के जैन जैनेतर भाई-बहिनों ने श्रद्धांजलि अर्पित की । इस अवसर पर मीरा भाईन्दर महापौर श्रीमती गीता जैन,स्थानीय नगर सेविका श्रीमती सीमा शाह,मीरा भाईन्दर माझी उपमहापौर चंद्रकांत वैती, यशोभूमि पत्रकार कृपाशंकर दवे भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का शुभारम्भ साध्वी शंकुन्तला कुमारी जी द्वारा मंगलाचरण से हुआ। इस युग के महानायक को सर्वप्रथम प्रकृति ने शीतल लहरों एवं मंद मंद बारिश के द्वारा जीवन को शीतलमय बनाने की एव धूप के द्वारा तपस्वी जीवन जीने की प्रेरणा देते हुए पुष्पांजली अर्पित की।मीरा रोड तेयुप अध्यक्ष श्री उमराव जी रांका ने आगंतुक अतिथियों का स्वागत किया।
विशाल जनसमुदाय को संबोधित करते हुए साध्वी श्री सोमलता जी ने ओजस्वी वाणी में कहा  कि सार्थक युग की संरचना के सारथी आचार्य श्री तुलसी मणिधारी पुरुष थे। उन्होंने अपने क्रन्तिकारी अवदानों से  धर्म,समाज एवं राष्ट्र को नई दिशा व नया आलोक दिया। उन्होंने कहा आचार्य तुलसी मानवता के मसीहा थे। उन्होंने गांधी की तरह स्वराज्य की,नेता की तरह वोट की एवं भृष्टाचारियों की तरह नोट की मांग नहीं की बल्कि खोट की मांग की। खोट देने वाला व्यक्ति ही स्वस्थ व्यक्तित्व का निर्माण कर सुसंगठित,विकसित ,स्वस्थ समाज व राष्ट्र की संरचना कर सकता है।अणुव्रत अनुशास्ता आचार्य तुलसी धर्मगुरु के साथ चिकित्सक भी थे।उन्होंने समाज में व्याप्त रिश्वतखोरी,जुआचोरी, नशाखोरी,मुफ्तखोरी जैसी बीमारियों के लिए श्रमशीलता,सदाचार,प्राथमिकता और मानवीयता की टेबलेट बताई। अंत में साध्वी श्री जी ने जनमानस को झकझोरते हुए कहा कि आज के दिवस को मानाने की सार्थकता तभी होगी जब हम उनके संदेशो को आत्मसात करें तथा तदनुरूप आचरण भी करें।
साध्वी श्री जागृतप्रभा जी ने कविता के माध्यम से व साध्वी संचितयशा जी ने अपने भावों की अभिव्यक्ति वक्तव्य के माध्यम से दी। साध्वी रक्षितयशा जी एवं मिरारोड कन्यामण्डल ने मधुर गीत का संगान कर श्रोतागण को भावविभोर कर दिया। साध्वीवृंद ने  *स्मृतियों के दर्पण में गुरुदेव तुलसी* परिसंवाद के माध्यम से गुरुदेव से साक्षात्कार करवाया। दहिसर,भाईन्दर व मीरारोड महिला मंडल ने सुमधुर स्वरलहरियों से श्रद्धा सुमन अर्पित किया ।दहिसर कन्यामण्डल ने *नया मोड़* पर परिसंवाद प्रस्तुत किया। मीरारोड महिला मंडल ने शब्द चित्र द्वारा गुरुदेव के अवदानों के बारे में जानकारी दी। मुम्बई महिला मंडल की तरुणा बोहरा , भायंदर सभा के अध्यक्ष हनुमानमल  पारख , जगत  संचेती , मंत्री कनक सिंघी , पिंकेश जैन मीरा रोड के उपाध्यक्ष राजेश कोठारी , भायंदर महिला मंडल की संयोजिका सुशीला मेहता , मीरा रोड संयोजिका संतोष बम्ब , उत्तमचंद डुंगरवाल , ताराचंद धींग प्रायोजक रमेश  सांखला , सुमित्रा सांखला ने विविध भावो से आराध्य को श्रद्धा सुमन अर्पित किये। तेयुप मंत्री राकेश खाब्या ने आभार ज्ञापन किया। कार्यक्रम का कुशल संचालन अभातेयुप वेबसाईट प्रभारी समकित पारिख ने किया ।

Related

Local 7946988813318923638

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item