नशा मुक्ति दिवस सांताक्रुज

अणुव्रत उद्बोधन सप्ताह के अंतर्गत अणुव्रत उपसमिति सांताक्रुज खार, पारला, बांद्रा  द्वारा जुहु बीच पर महर्षि दयानंद महाविद्यालय के विद्यार्थियों ने नुक्कड़ नाटक के द्वारा नशामुक्ति का संदेश जन-जन तक पहुंचाने का प्रयास किया।
कार्यक्रम का शुभारंभ अणुव्रत गीत के सामूहिक संगान से हुआ। सांताक्रूज महिला मंडल के द्वारा मंगलाचरण किया गया। अणुव्रत समिति, मुम्बई के अध्यक्ष श्री गणपतजी डागलिया ने अपने वक्तव्य से सभी का स्वागत किया। उद्बोधन सप्ताह की सहसंयोजिका करुणा कोठारी ने अणुव्रत की जानकारी देते हुए अणुव्रत आचार संहिता सभी को बताई एवं अणुव्रत के संकल्प कराए। माणक जी बाफना ने नशे के दुष्परिणाम अपने अनुभव द्वारा बताए।
कार्यक्रम में अणुव्रत समिति के कोषाध्यक्ष नितेश जी धाकड़, उपाध्यक्ष सुरेशजी मेहता, अणुव्रत उद्बोधन सप्ताह के पर्यवेक्षक रमेशजी चौधरी, पूर्व अध्यक्ष अर्जुनजी बाफना, अणुव्रत उध्बोधन सप्ताह की संयोजिका कंचन जी सोनी, सह संयोजिका भाग्यवती परमार, करुणा कोठारी, प्रियंका सिंघवी, अणुव्रत उपसमिति के संयोजक बसंतीलाल कूमठ, तेयुप अध्यक्ष अम्बालाल जी धाकड़, मंत्री दिनेश मेहता एवं पूरी टीम उपस्थित थी। महेश जी कोठारी, कांति लाल जी संघवी, कनक जी संघवी,  अणुव्रत फाउंडेशन की पूरी टीम, राजेश जी चौधरी, प्रकाश जी धींग, किरण परमार, महेश परमार, पियुस चौधरी, तख्तमल जी धोका, नरेन्द्र संघवी, कैलाश धाकड़, महावीर घाकड, कमलेश बंम, कमलेश मेहता, सुरेश जी चंडालिया, ओम चोरड़िया, भरत चोरड़िया, निलेश कावडीया, कपिल बाफना, नरेश खाबीया, दिलीप बाफना, राकेश चपलोत, प्रवीण बेताला, निर्मल बाफना, महिला मंडल संयोजिका प्रेम लोढा, सहसंयोजिका प्रभा हिरण, मोना नवलखा, कोषाध्यक्ष मंजू बडाला अपनी पूरी टीम के साथ उपस्तिथ थे।

कार्यक्रम का संचालन मुकेश मादरेचा तथा आभार उपसमिति सह संयोजक दिलीप धींग ने किया। कार्यक्रम की निष्पत्ति के रूप में 25  वर्षों से नशा करने वाले भी ने नशा मुक्ति का संकल्प किया।


Related

Local 5794417483937206920

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item