अभातेमम के तत्वावधान में मुंबई में उन्नयन कार्यशाला आयोजित

अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल के तत्वावधान में साध्वी निर्वाणश्री जी एवं साध्वीवृन्द के पावन सानिध्य में "उन्नयन " कार्यशाला का भव्य आयोजन चेम्बूर के ग्रांड नालन्दा हॉल में हुआ । जिसका विषय रहा " सधे सहज सबका उत्कर्ष ,पाएं पल पल नव निष्कर्ष " ।

आचार्य महाश्रमण की विदुषी शिष्या साध्वी निर्वाण श्री जी ने अपने उद्धबोधन में कहा कि ,उन्नयन एक दिन में नही हो जाता ,उन्नयन करना होता है आचार, विचार, व्यवहार और आध्यात्म सभी दृष्टियों से करना है । उन्होंने अपनी बात को बढ़ाते हुए कहा - उन्नयन के लिए ज्ञान सम्पन्न भी होना होगा और चारित्र सम्पन्न भी होना होगा । उन्होंने फरमाया कि विश्व में और विशेष कर भारत मे बहुत सी समस्याएं है, उन समस्याओं का समाधान तभी होगा जब मूल्यों का आलोक जीवन मे उतारने के लिए आप प्रतिबद्ध हो । बिना प्रतिबद्धता के व्यक्ति आगे नही बढ़ सकता । साध्वीश्री जी ने दोनों संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उनकी टीम को मंगलकामना देते हुए आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहन दिया । साध्वीवृन्द के सुमधुर गीत के साथ लय मिलाते हुए मुम्बई महिला मंडल की बहनों ने "उन्नयन" के लक्ष्य को प्रॉप्स के माध्यम से प्रस्तुत कर सभी का मन मोह लिया । साध्वीवृन्द ने एक लघु नाटिका द्ववारा उन्नयन के अर्थ को समझाया ।
राष्ट्रीय अध्यक्षा कुमुदजी ने अपने प्रभावशाली व्यक्तव्य में महिलाओं को दिशाबोध देते हुए कहा कि- उन्नयन के "उ" में जो तथ्यात्मक यथार्थ है कि- उन्नयन हो चिंतन का, ऊर्जा का उर्ध्वारोहण हो, उज्जवल भविष्य के निर्माण में प्रस्थान हो और उन्होंने "न्न" का मार्मिक अर्थ निकालते हुए कहा कि - कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करें और साथ साथ चले । अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि "य" का अर्थ है यकीन । हमें यकीन होना चाहिए हमारे कर्तुत्व पर और हमारे व्यक्तित्व पर । "न" का निष्कर्ष निकालते हुए उन्होंने बड़े ही सहजता के साथ कहा कि ,नहीं होगा मुश्किल मंज़िल तक पहुंचना ।कुमुदजी ने अपने कार्यकाल में होने वाले आगामी संभावित कार्यो को संक्षिप्त में बताया और बहिनों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि- मुम्बई आर्थिक नगरी तो है ही, अब हमें उसे आध्यात्मिक नगरी भी बनाना है और उसमें सभी का सहयोग अपेक्षित है ।
कार्यक्रम के पूर्व अभातेयुप के राष्ट्रीय अध्यक्ष विमल जी कटारिया एवं अभातेमम की राष्ट्रीय अध्यक्षा कुमुदजी कच्छारा का भव्य स्वागत किया गया । कार्यक्रम की शुभ शुरुआत साध्वीश्री जी ने महामंत्रोचार द्ववारा करवाई । राष्ट्रीय अध्यक्षा कुमुदजी ने "उन्नयन" के उदघाट्न की उदघोषणा की । कन्या मंडल ने सुमधुर गीत के द्ववारा नवनिर्वाचित टीम को बधाई प्रेषित की । मुम्बई अध्यक्षा जयश्री जी बड़ाला ने राष्ट्रीय टीम एवं पधारे हुए अतिथियो का अपने व्यक्तव्य द्ववारा स्वागत किया । घाटकोपर संयोजिका ने स्वागत भाषण दिया । घाटकोपर महिला मंडल ने सुमधुर मंगल गीत द्ववारा राष्ट्रीय नेतृत्व को बधाई दी । महासभा के अध्यक्ष किशनजी डागलिया, अभातेयुप के निवर्तमान अध्यक्ष बी सी भलावत, नवनिर्वाचित राष्ट्रीय अध्यक्ष विमलजी कटारिया, महामंत्री संदीप जी कोठारी, जय तुलसी फाउंडेशन के महामंत्री सलिलजी लोढा, मुम्बई सभा से मनोहर जी गोखरू, परामर्शक प्रेमलता जी सिसोदिया आदि पदाधिकारीयों ने राष्ट्रीय अध्यक्षा कुमुदजी को शुभकामनाएं देते हुए अपने भावों की अभिव्यक्ति दी ।
मुम्बई महिला मंडल द्ववारा उन्नयन के विषय पर प्रॉप्स बनाने की प्रतियोगिता आयोजित की। जिसके निर्णायक थे श्रीमती मधु कटारिया एवं उपाध्यक्ष रचना हिरण । प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर रही ठाणे से रमिला बड़ाला, द्वितीय रही डोम्बिवली से पिंकी परमार व तृतीय स्थान प्राप्त किया घाटकोपर से रुचिता कोठारी ने ।
"उन्नयन " कार्यशाला में अभातेयुप से उपाध्यक्ष-I मुकेशजी गुगलिया, उपाध्यक्ष-II पंकज जी डागा, सहमंत्री-I रमेशजी डागा, सहमंत्री- II अभिनंदन नाहटा, कोषाध्यक्ष नवीनजी बैंगानी, संगठन मंत्री पवन जी मांडोत, महासभा अध्यक्ष किशनजी डागलिया, कोषाध्यक्ष रमेशजी सुतरिया, अणुव्रत समिति मुम्बई से गणपत जी डागलिया, नितेश जी धाकड़, मुम्बई सभा अध्यक्ष सुनील जी कच्छारा, मंत्री नरेंद्र बांठिया , ख्याली लाल जी तांतेड़ , महेन्द्र जी तांतेड़ , ख्याली लाल जी मादरेचा, जय तुलसी फाउंडेशन महामंत्री सलिल जी लोढा, TPF मुम्बई अध्यक्ष मनीष कोठारी, मंत्री दीपक डागलिया, अभातेमम की राष्ट्रीय कार्यकारणी से सुमनजी बच्छावत, पिंकीजी कच्छारा, रचनाजी हिरण, प्रेमलता जी सीसोदिया , मुम्बई महिला मंडल अध्यक्ष जयश्री बड़ाला, कांता जी तातेड़ , भारती जी सेठिया, तरुणाजी बोहरा, अंजू बापना, अलका मेहता, गीतांजलि बोथरा, स्वीटी लोढा, आशा जी भलावत , मधुजी कटारिया, कल्पना कोठारी, मुम्बई महिला मंडल मंत्री श्वेता सुराणा, निर्मला जी चंडालिया आदि सभी पदाधिकारियों की गरिमामय उपस्तिथि रही । कार्यक्रम को सफल बनाने में घाटकोपर के तेयुप अध्यक्ष लोकेश जी डांगी व उनकी टीम एवं घाटकोपर महिला मंडल से मंजूजी मादरेचा व उनकी पूरी टीम का सम्पूर्ण सहयोग रहा । महेन्द्र जी तातेड़ एवं प्रकाश देवी राठौड़ कार्यक्रम के विशेष सहयोगी रहे । आभार ज्ञापन घाटकोपर सहसंयोजिका भावना चपलोत व श्वेता सुराणा ने किया ।" उन्नयन" के इस सफल आयोजन में मंच का कुशल संचालन साध्वी श्री डॉ.योगक्षेमप्रभाजी ने किया ।

Related

Sangathan 5063059547367396683

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item