सोशल मीडिया का उपयोग विवेक से करें: छाजेड़



गंगाशहर। जैन तेरापंथ न्यूज (जेटीएन) के आठ वर्षों की सम्पन्नता के उपलक्ष्य में अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद द्वारा निर्देशित और तेरापंथ युवक परिषद्, गंगाशहर द्वारा मंगलवार को ''सोशल मीडिया कार्यशाला'' तेरापंथ भवन में बहुश्रुत राजकरणजी स्वामी एवं शासनश्री मुनिश्री मुनिव्रत जी की पावन प्रेरणा से मुनिश्री गिरीशकुमारजी के सान्निध्य में आयोजित हुई।  तेयुप अध्यक्ष आसकरण बोथरा ने बताया कि कार्यशाला के मुख्य वक्ता प्रेक्षाध्यान पत्रिका के सम्पादक और आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान के अध्यक्ष जैन लूणकरण छाजेड़ और मुख्य अतिथि राजस्थान पत्रिका बीकानेर के उप सम्पादक हेम शर्मा थे।



कार्यक्रम में मुख्य अतिथि हेम शर्मा ने कहा कि 21वीं सदी में सोशल मीडिया संवाद का क्रान्तिकारी कदम है, व्यक्तिगत, पारिवारिक, सामाजिक, वैश्विक स्तर पर इसका विवेकपूर्ण उपयोग होना चाहिए जिससे अहिंसा, सद्भाव और एकता बढे़। शर्मा ने कहा कि सोशल मीडिया आधुनिक चौपाल है, अपने सर्किल से जुडे़ लोगों से तकनीक के माध्यम से संवाद करने का सरल तरीका है। 


कार्यशाला में मुख्य वक्ता लूणकरण छाजेड़ ने कहा कि सोशल मीडिया का उपयोग विवेक से करें, किसी की निजता का हनन न करें। असामाजिक एवं देश की सुरक्षा को प्रभावित करने वाले संदेशों का प्रसारण न करें। विधायक दृष्टिकोण रखें। संवाददाता प्रत्येक संस्था की व समाजहित की खबरों को प्रसारित करें। छाजेड़ ने कहा कि जेटीएन तेरापंथ समाज का विश्वसनीय संवाद ग्रुप है। इसके माध्यम से संघीय गतिविधियों का अधिक से अधिक प्रसार हो तभी इसकी उपयोगिता बढे़गी। सोशल मीडिया के उपयोग में समय का ध्यान रखें। प्राथमिकता तय करें, अपने भावानात्मक सम्बन्धों की इज्जत करें, उसे पल्लवित व पुष्पित करें। सोशल मीडिया के चलते व्यक्तिगत सम्बन्ध ना बिगड़े। 


मुनिश्री गिरीशकुमारजी ने अपने मंगल पाथेय में कहा कि जेटीएन संघप्रभावना का एक विस्तृत संगठन और स्वरूप प्राप्त कर चुका है। गुरूदेव तुलसी के दूरदर्शी सोच को इसके माध्यम से परिणिती मिली है। सम्पूर्ण सोशल मीडिया का उपयोग हम सम्बन्धों में नजदीकियां बढ़ाने, ज्ञानवर्द्धन करने की दृष्टि से करें तो यह एक उपयोगी माध्यम सिद्ध हो सकता है। 


तेयुप मंत्री कन्हैयालाल बोथरा ने बताया कि नमस्कार महामंत्र के जप तथा मनोज छाजेड़ द्वारा मंगलाचरण के साथ कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआ। श्रावक निष्ठा पत्र का वाचन डॉ. पी.सी. तातेड़ ने करवाया। मुख्य अतिथियों का परिचय अभातेयुप क्षेत्रीय प्रभारी मनीष बाफना ने दिया। जेटीएन द्वारा किये कार्यों की भूमिका धर्मेन्द्र डाकलिया ने प्रस्तुत की। डाकलिया ने बताया कि वर्तमान में 7 देशों में 244 संवाददाताओं के माध्यम से तेरापंथ धर्मसंघ की गतिविधियों व सूचनाओं से सम्बन्धित समाचारों को प्रचारित प्रसारित किया जाता है। मुख्य वक्ताओं का पताका पहनाकर अमरचन्द सोनी, प्रकाश भंसाली, आसकरण बोथरा, कन्हैयालाल बोथरा ने सम्मान किया।
कार्यक्रम संचालन करते हुए रतन छलाणी ने ''सोशल मीडिया का सम्यक उपयोग'' विषय पर विचार व्यक्त किये। तेयुप अध्यक्ष आसकरण बोथरा ने आभार ज्ञापित किया। कार्यक्रम का कुशल संचालन रतन छलाणी ने किया। इस अवसर पर आदर्श विद्या मन्दिर के विद्यार्थियों ने विशेष रूप से  उपस्थित होकर सोशल मीडिया के उपयोग एवं दुरूपयोग के बारे में समझा।

Related

Social Media 8956868135421628328

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item