मंत्री मुनि के सान्निध्य में हुई अमृतवाणी संपर्क संगोष्ठी

मंत्री मुनि सुमेरमल जी स्वामी के सान्निध्य
में आयोजित हुई अमृतवाणी संपर्क संगोष्ठि
6 जनवरी 2019, जयपुर, JTN, शासन स्तम्भ मंत्री मुनि प्रवर के सानिध्य में जनता कालोनी पाटनी हाउस में अमृतवाणी संपर्क संगोष्ठी का आयोजन किया गया। उल्लेखनीय है कि अमृतवाणी तेरापंथ धर्मसंघ की ऐसी केंद्रीय संस्था है जिसके माध्यम से पूज्यप्रवर के प्रवचन एवं विशिष्ट संघीय आयोजनों का प्रसारण होता है। 


संस्था के संरक्षक श्री सुखराज सेठिया, राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री प्रकाश बैद के जयपुर आगमन पर अमृतवाणी संपर्क संगोष्ठी का आयोजन हुआ।
श्रद्वेय मंत्रीमुनि सुमेरमल जी स्वामी ने अपने वक्तव्य में अमृतवाणी को तेरापंथ धर्म संघ की एक विशिष्ट संस्था बताया जो संघ की प्रभावना का विशेष कार्य कर रही है। आपने फरमाया की अमृतवाणी के द्वारा प्रवचन प्रसारण से जैन - जैनेतर अनेक लोगों को घर बैठे अमृतमय प्रवचन सुनने का अवसर मिल जाता है। मुनिश्री उदितकुमार जी ने भी संगोष्ठी को संबोधित किया।


सरंक्षक श्री सुखराज सेठिया नेअमृतवाणी की गतिविधियों की जानकारी प्रदान करते हुए समाज के विशिष्ट लोगों को अमृतवाणी से जुड़ने का अनुरोध किया। अभातेयुप के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री पन्नालाल पुगलिया ने अमृतवाणी के ट्रस्टी बनने की एवं श्री जतन कंवर भंडारी ने प्रसारण सहयोग बनने की स्वीकृति प्रदान दी। साथ ही समाज के पाँच से सात सम्मानित श्रावकों ने ट्रस्टी व प्रसारण में सहभागिता देने हेतु आश्वासन दिया है।


अमृतवाणी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री प्रकाश बैद ने विभिन्न स्थानों में आयोजित  संपर्क संगोष्ठी एवं संचालित प्रवृतियों की जानकारी प्रदान की। जयपुर प्रवासी श्री दौलत डागा को अमृतवाणी का उपाध्यक्ष मनोनीत करने की घोषणा भी अध्यक्ष महोदय ने की। अमृतवाणी स्वर संगम 2019 की जानकारी राष्ट्रीय संयोजक श्री पन्नालाल पुगलिया ने प्रदान की।


इस अवसर पर तेरापंथी सभाध्यक्ष श्री ओमप्रकाश जैन, श्री दौलत डागा ने आये हुए लोगो का स्वागत करते हुए अपने विचार व्यक्त किये। अमृतवाणी संरक्षक, अध्यक्ष एवं नवमनोनीत उपाध्यक्ष का साहित्य व दुपट्टा द्वारा  सम्मान किया गया। इस अवसर पर जयपुर संघीय संस्थाओं के पदाधिकारी, केंद्रीय संस्थाओं के जयपुर प्रवासित पदाधिकारी एवं समाज के विशिष्टजनों की गरिमामय उपस्थिति रही। कार्यक्रम का कुशल संयोजन श्री राजेन्द्र बांठिया ने किया।

Related

Terapanth 3827477226814852181

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item