ठाणे में पंच दिवसीय महाराष्ट्रीय स्तरीय कन्या संस्कार निर्माण शिविर का भव्य उद्घाटन का आयोजन

पंच दिवसीय महाराष्ट्र स्तरीय कन्या संस्कार निर्माण शिविर का भव्य उद्घाटन 
अरुणोदय का आयोजन 
ठाणे मुम्बई, साध्वीश्री आणिमाश्री जी के सानिध्य में एवं साध्वीश्री मंगलप्रज्ञाजी के निर्देशन में जे.श्वे.ते.महासभा के तत्वावधान में मुम्बई सभा तथा ठाणा सभा एवं भिक्षु महाप्रज्ञ ट्रस्ट द्वारा पंच दिवसीय महाराष्ट्र स्तरीय कन्या संस्कार निर्माण शिविर 'अरुणोदय' का भव्य आयोजन ठाणा तेरापंथ भवन के विशाल प्रांगण में किया गया । पंच दिवसीय इस शिविर में लगभग 160 कन्याओं ने अभी तक अपना पंजीयन करवाया है । संख्या में वृद्धि की बहुत अधिक संभावना है । सैंकड़ों अभिभावक जिन्होंने इस भव्य नज़ारे को देखकर अपनी बेटियों को भेजने का मानस बनाया है । इस गरिमामय कार्यक्रम में अ.भा. ते.म.म. की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती कुमुद कच्छारा,महाराष्ट्र महिला मोर्चा बीजेपी की अध्यक्ष माधवी नायक,महासभा के पूर्वाध्यक्ष श्री किशनलाल जी डागलिया,महासभा के सहमंत्री श्री रमेश सुतरिया,मुम्बई सभा के अध्यक्ष श्री नरेन्द्रजी तातेड़,वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री नवरत्नजी गन्ना,बाबुलालजी बाफणा, विनोदजी बोहरा,मंत्री विजय पटवारी,म.म.अध्यक्षा श्रीमती जयश्री बडाला,अ.भा.ते.म.म. की कन्यामण्डल की सह प्रभारी श्रीमती तरुणा बोथरा,टी.पी.एफ.के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सलिल लोढ़ा,अध्यक्ष दीपक डागलिया,सहमंत्री श्री मनीष कोठारी,महासभा के सदस्य श्री अशोकजी तातेड़,सुरेंद्रजी कोठारी,केंद्रीय संयोजक महावीरजी कोठारी,राजेन्द्रजी मुणोत,अणुव्रत सामिति के अध्यक्ष रमेशजी चौधरी,पूर्वाध्यक्ष श्री गणपतजी डागलिया,श्री नितेश धाकड़,कन्यामण्डल प्रभारी मीना कच्छारा,सह प्रभारी प्रीति बोथरा,ज्ञानशाला आंचलिक संयोजिका श्रीमती सुमन चपलोत,श्रीमती प्रकाशदेवी तातेड़,श्रीमती निर्मला चिंडालिया,ठाणा सभाध्यक्ष देवीलालजी श्रीश्रीमाल,मंत्री जितेंद्रजी बरलोटा आदि अनेक गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति रही । 
साध्वीश्री अणिमाश्री जी ने अपने प्रेरणादायी उद्बोधन में कहा - तेरापंथ चमन के कुशल बागवां आचार्यश्री महाश्रमण जी नई पौध में संस्कारों का सिंचन दे रहे हैं,उन्हें पल्लवित,पुष्पित व सदाबहार रखने के लिए अपनी शक्ति,श्रम व समय का नियोजन कर रहें हैं । गुरुदृष्टि का आराधन कर महासभा जगह - जगह संस्कार निर्माण शिविर का आयोजन कर रही है । इसी क्रम में ठाणा भवन में मुम्बई एवं ठाणा सभा द्वारा संस्कार निर्माण शिविर 'अरुणोदय' का आयोजन किया है। प्रारंभ में अनेक लोगो ने एक बात कही-जॉब एवं हायर स्टडीज के इस माहौल में पांच दिन तक कन्याएं कैसे आएगी। लेकिन मुझे विश्वास था हमारी कन्याएं एवं अभिभावक सुंदर भविष्य निर्माण के प्रति जागरूक है। आज कन्याओं की यह वृहत उपस्थिति इस तथ्य को सही साबित कर रही है। में सबसे पहले साधुवाद देना चाहूंगी साध्वी मंगलप्रज्ञाजी को जिनका इस कार्यक्रम की सयोजना में अत्यधिक श्रम लगा है। घंटो घंटो कार्यकताओं के साथ बैठकर सुंदर रूपरेखा तैयार की है। मुंबई सभा,ठाणे सभा,भिक्षु ट्रस्ट,जयश्री बडाला, मीना कच्छारा,अनिता धारीवाल,मानसी वागरेचा आदि अनेक कार्यकर्ताओ की मेहनत रंग लाई है। जिनका श्रम मुखर हुआ है,उन्हें साधुवाद एवं आगे बढ़ने की प्रेरणा। कन्याएं संस्कारो के आलोक से जीवन को आलोकित करे मंगलकांमना।
      साध्वी मंगलप्रज्ञाजी ने प्रेरणा पाथेय प्रदान करते हुए कहा संस्कार हमारी जीवनी शक्ति है,संस्कार प्राण ऊर्जा है। संस्कार एक ऐसी अप्रकम्प दीप शिखा है। जो हर अंधेरे मोड़ को आलोक से भर देती है। संस्कार हमारी धरोहर है। उस धरोहर को हस्तगत करने के लिए अरुणोदय हो। संस्कारो का अरुणोदय जीवन को खुशहाल बनाये। 
     साध्वी सुधाप्रभाजी मंच संचालन करते हुए कहा हमारे जीवन संस्कारों के साथ साथ श्रम,शक्ति व शांति का अरुणोदय हो समता,सहजता व सरलता का अरुणोदय हो। सादगी,शालीनता व शहनशीलता का अरुणोदय हो।
        राष्ट्रीय अध्यक्ष कुमुदजी कच्छारा,श्री किशनलाल जी डागलिया,माधवजी नायक,रमेशजी सुतरिया,नरेंद्र जी तातेड़,तरुणा बोहरा,जय श्री बडाला, रमेशजी चौधरी,सलिलजी लोढ़ा, सुमन चपलोत,मीना कच्छारा,मानसी वागरेचा,महावीर कोठारी,देवीलाल जी श्रीश्रीमाल,अनिता धारीवाल ने अपने भावों की प्रस्तुति दी। बाजारपेठ महिलामंडल ने मंगल संगान किया। ठाणा कन्यामण्डल ने अरुणोदय गीत की सुंदर प्रस्तुति दी। सभा के मंत्री विजयजी पटवारी ने आभार ज्ञापन किया। ठाणे सभा के मंत्री श्री जितेन्द्रजी बरलोटा ने संचालन किया। अरुणोदय के भव्य लोगो का लोकार्पण सम्मानित मंच द्वारा भव्यता के साथ किया गया। इस कार्यक्रम में मुंबई सभा,ठाणे सभा,भिक्षु ट्रस्ट,मु .महिला मंडल, कन्या मंडल का सराहनीय सहयोग रहा।
       कार्यक्रम में ज्योतिंमॅय कार्यक्रम के  बेनर का लोकार्पण सम्मानित मंच द्वारा हुआ। राहुल पटवारी ने ज्योतिमॅय कार्यक्रम की सुंदर जानकारी दी।

Related

Terapanth 487603162290371880

Post a Comment Default Comments

Leave your valuable comments about this here :

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments





Total Pageviews

item